शुक्रवार, 8 जून 2018

फूफा जी का डांस

डांस हर कोई नहीं कर सकता। न डांस हर किसी को कराया जा सकता है। जो डांस नहीं कर सकते, उन्हें आंगन हर वक्त टेढ़ा ही नजर आता है। लेकिन विदिशा (मध्य प्रदेश) वाले फूफा जी ऐसे नहीं हैं। वे शादी में आए अन्य फूफओं से बहुत अलग हैं। आजकल तो अपने 'अद्भुत डांस' के चलते पूरी दुनिया में वायरल हो रखे हैं। दुनिया ही नहीं पूरा सोशल मीडिया उनके डांस का मुरीद बन बैठा है। ट्विटर पर उनके डांस को जमकर रि-ट्वीट किया जा रहा है। तो फेसबुक की पोस्टों में फूफा जी के चर्चे हैं।

जिसे देखो उसी की मोबाइल स्क्रीन पर फूफा जी डांस करते दिख जाएंगे। फूफा जी के डांस ने ऐसा रंग जमाया है कि बॉलीवुड से लेकर मामा जी तक को तारीफ करनी पड़ गई है। मामा जी ने तो यहां तक कह डाला कि मध्य प्रदेश के पानी में कुछ बात तो है। सही है। पानी आखिर कहीं तो अपना असर छोड़ता ही है।

फूफा जी के फुर्तीले डांस को देखकर एक बार फिर यह धारणा मजबूत हो चली है कि डांस में उम्र मायने नहीं रखती। बस दिल का जवां और शरीर का चुस्त होना जरूरी है। वजन भी खास मायने नहीं रखता फूफा जी को नाचता देखकर।

पता नहीं गोविंदा ने फूफा जी का डांस अभी देखा होगा कि नहीं। अगर देख लेंगे तो दीवाने वे भी उनके हुए बिना न मानेंगे।

फूफा जी को डांस करते जब से देखा है, मेरा दिल भी डांस करने को मचलने लगा है। बीच में पत्नी ने भी ताना मार दिया- 'देखो, ऐसे होता है डांस। तुम्हारी तरह नहीं सिर्फ हाथ-पैर हिला लिए।' पत्नी ने हल्की-सी हिदायत भी दे डाली- 'मेरी मानो थोड़े दिन विदिशा में रहकर फूफा जी से डांस सीख आओ।'

पत्नी की सलाह नेक है लेकिन नौकरी की अपनी दुश्वारियां हैं।
बचपन में बड़ी तमन्ना थी, जब भी माइकल जैक्सन को डांस करते देखता था, उस जैसा बनने की। वैसा ही डांस करने की। बॉडी को उतना ही लचीला बनाने की। केवल डांस के दम पर पूरी दुनिया पर छा जाने की। मगर हर कोई तो माइकल जैक्सन नहीं हो सकता न। जैक्सन बनने का ख्वाब ख्वाब ही रहा। फिलहाल, लेखक बन गया।

लेकिन फूफा जी के गोविंदा स्टाइल डांस ने दिल मोह लिया। शरीर में इतना लोच, इतनी स्फूर्ति जाने कहां से लाते हैं फूफा जी।

मानना तो पड़ेगा, डांस प्रेमी होते बहुत जिंदादिल हैं। कहीं भी, कैसे भी डांस करवा लो बिना शर्माए नाच जाते हैं। वे डांस कर अपने शरीर की चपलता को बनाए रखते हैं। और एक हम लेखक हैं, जो इस-उस पर टिका-टिप्पणी कर अपना दिल जलाते रहते हैं।

कितना खुशनसीब है वो परिवार जिसमें ऐसे मस्त डांसर फूफा जी हैं। फूफा शादियों में सिर्फ मुंह ही नहीं बिगाड़ते, डांस भी बिंदास करते हैं। जियो फूफा जी।

2 टिप्‍पणियां:

शिवम् मिश्रा ने कहा…

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, सपने हैं ... सपनो का क्या - ब्लॉग बुलेटिन “ , मे आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

anshumala ने कहा…

फूफा जी की उम्र उतनी भी नहीं है , गोविंदा के समकक्ष ही है और उनके फैन जब गोविंदा नाच सकते है तो फूफा जी क्यों नहीं |