बुधवार, 12 नवंबर 2014

अच्छे दिनों में सेंसेक्स

चित्र साभारः गूगल
बहुत देख लिए प्यारे सेंसेक्स ने बुरे दिन अब 'अच्छे दिन' देखने का समय है। शिखर पर पहुंचकर इठलाता हुआ सेंसेक्स एक अलग ही फीलिंग दे रहा है। यह फीलिंग अर्थव्यवस्था को गुलाबी रंगत दे रही है। सेंसेक्स के सुर में अर्थव्यवस्था ने अपना भी सुर मिला लिया है। तब ही तो पेट्रोल-डीजल से लेकर महंगाई तक में अच्छे दिन आना शुरू हो चुके हैं। चलो आम आदमी के सिर का कुछ तो बोझ कम हुआ।

मुझे अपने से ज्यादा सेंसेक्स को 'खुश' देखना अच्छा लगता है। सेंसेक्स की खुशी पर ही तो अर्थव्यवस्था की बुनियाद टिकी है। सेंसेक्स जब सरपट-सरपट भागता है तो अर्थव्यवस्था भी उसी गति से भागती है। सरकार भी राहत की सांस लेती है। आम आदमी को महंगाई कम होने से 'सुकून' मिलता है। घर का बजट संभलता। पत्नी के चेहरे पर चमक बढ़ती और किचन की रंगत बदलती है। लोन-शोन का भार भी कुछ कम होता है। नौकरी के तमाम रास्ते खुलते हैं। यह सब प्यारे सेंसेक्स की 'किरपा' का ही तो 'चमत्कार' है।

अब आप लोगों से क्या छिपाना, मैंने तो अपने कमरे में सेंसेक्स महाराज की मूर्ति ही स्थापित कर ली है। दिन में दो टाइम सेंसेक्स महाराज की 'आरती' किया करता हूं। बस यही दुआ मांगता हूं कि हे! प्यारे सेंसेक्स महाराज अब हमेशा अच्छे दिनों में ही रहना। कभी अपना मूड न बिगाड़ना। मुझे और मेरे देश की अर्थव्यवस्था पर अपनी किरपा बनाए रखना। तुम ही हमारा 'वर्तमान' और तुम ही 'भविष्य' हो।

पूरी दुनिया को मैं यह बतला देना चाहता हूं कि हां, मेरी 'संपूर्ण आस्था' सेंसेक्स में है। इसका मुझे 'गर्व' है।

सेंसेक्स की सबसे बड़ी खूबी उसका खुद पर कतई 'घमंड' न करना है। सेंसेक्स एकदम 'कूल मूड' में रहता है। सोना-चांदी-डॉलर की तरह हर वक्त घमंड में नहीं दिखता। हर वक्त घमंड में रहने वालों का 'हश्र' देख लीजिए न आज 'औंधे मुंह' पड़े हैं। न कोई पूछ रहा है न खरीद रहा। सोने-चांदी की फितरत पर कुर्बान रहने वाला वर्ग अब सेंसेक्स की ओर हसरत भरी निगाहों से देख रहा है। मुझे पक्की उम्मीद है, सेंसेक्स उन्हें 'निराश' नहीं करेगा।

अच्छे दिनों के बीच सेंसेक्स की किरपा हम पर ऐसे ही बनी रहे। शेयर बाजार दिन दूनी रात चौगनी तरक्की करता रहे। अर्थव्यवस्था के साथ-साथ आम आदमी के चेहरों पर गुलाबियत कायम रहे। इसके अतिरिक्त हमें और क्या चाहिए! सेंसेक्स बढ़ेगा तो हम सब भी बढ़ेंगे। है कि नहीं...।

1 टिप्पणी:

Digamber Naswa ने कहा…

आमीन ... सेंसेक्स की चाल से सबकी रफ़्तार रहती है ...